नई पोस्ट करें

Birthday Special: विनोद खन्ना की ये 5 फिल्में आपको जरूर देखनी चाहिए

2022-10-07 14:37:04 042

विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिएIPL 2022: केकेआर के एलेक्स हेल्स ने आईपीएल से लिया नाम वापस, टीम ने इस धाकड़ खिलाड़ी को टीम के साथ जोड़ा******Highlightsकोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2022 के लिए ऑस्ट्रेलियाई टी20 टीम के कप्तान अरोन फिंच को टीम के साथ जोड़ा है। केकेआर नेइंग्लैंड के बल्लेबाज एलेक्स हेल्स की जगहआरोन फिंच को टीम में शामिल किया है। आईपीएल के एक आधिकारिक बयान के अनुसार हेल्स ने टूर्नामेंट से हटने का कारण बायो बबलको बताया है। ऑस्ट्रेलिया के ICC T20 विश्व कप विजेता कप्तानफिंच अब तक 88 T20I खेल चुके हैं और दो शतकों और 15 अर्धशतकों की मदद से 2686 रन बना चुके हैं।फिंच, जिन्होंने 87 आईपीएल खेल खेले हैं और 2000 से अधिक आईपीएल रन हैं, 1.5 करोड़ रुपये की कीमत पर केकेआर में शामिल होंगे।एलेक्स हेल्स ने ट्विटर पर एक बयान में कहा,"मुझे यह घोषणा करते हुए दुख हो रहा है कि मैंने आगामी आईपीएल से हटने का बेहद कठिन निर्णय लिया है। पिछले चार महीने घर से दूर प्रतिबंधात्मक बायो बबल में बिताए और ऑस्ट्रेलिया में COVID पॉजिटिव पाए जाने के बाद​मुझे ऐसा नहीं लगता कि मै और समय के लिए बायो बबल में रह सकता हूं। उन्होंने आगे कहा,"यह टीम या मेरे लिए उचित नहीं होगा कि मै बायो बबल में रहने के कारण अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाया।मैं वास्तव में अपने सबसे अच्छे अवसरों में से एक को ठुकराने के लिए निराश हूं। पिछले दो वर्षों में बायो बबल में रहनेके कारण मेरे मानसिक स्वास्थ्य पर असर पड़ा है। अब मैं गर्मियों से पहले आराम करनेके लिए कुछ समय लूंगा। मैं नीलामी के दौरान हम पर विश्वास करने के लिए केकेआर को धन्यवाद देना चाहता हूं। मैं मैक्कुलम, श्रेयस और टीम को टूर्नामेंट के लिए शुभकामनाएं देता हूं और भविष्य में नाइट राइडर्स के प्रशंसकों को देखने की उम्मीद करता हूं।"बता दें किदो बार के आईपीएल चैंपियनकेकेआर 26 मार्च कोमुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफआईपीएल 2022 में अपने अभियान की शुरूआतकरेगी।

विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिएमोदी को अर्थव्यवस्था की कोई समझ नहीं, दुनिया में भारत का मजाक बन रहा है: राहुल गांधी******कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने शुक्रवार को प्रधान नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला और आरोप लगाया कि मोदी को अर्थव्यवस्था की कोई समझ नहीं है तथा इस सरकार की नीतियों के कारण आज दुनिया भर में भारत का मजाक बनाया जा रहा है। उन्होंने हरियाणा के महेंद्रगढ़ में एक चुनावी सभा में यह भी कहा कि अगर देश को बांटा जाएगा तो देश कभी प्रगति नहीं कर सकता। इस सभा को पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी संबोधित करने वाली थीं, लेकिन वायरल बुखार होने के कारण उनकी जगह राहुल गांधी इसमें शामिल हुए।राहुल गांधी ने कहा, ‘‘सोनिया जी को आना था, लेकिन उनको वायरल हो गया तो उन्होंने मुझसे कहा कि मैं उनकी ओर से आपसे मिलने आऊं।’’ उन्होंने दावा किया, ‘‘देश की हालत आपके सामने है, आपसे कुछ छिपाया नहीं जा सकता। 40 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी आज देश में हैं। आप किसी भी प्रदेश में युवाओं से पूछिए कि क्या करते हो तो वे कहते हैं कुछ नहीं। छोटे और मझोले कारोबारियों से पूछिए कि आपका काम कैसे चला रहा है तो वो कहेंगे नोटबंदी और गब्बर सिंह टैक्स ने हमें बर्बाद कर दिया।’’राहुल गांधी ने कहा, ‘‘मीडिया के लोग 24 घंटे मोदी जी का भाषण दिखाते हैं। कभी आपने देखा कि देश में भयंकर बेरोजगारी के बारे में बात हो रही है? क्या कभी देखा कि किसान आत्महत्या की बात की जा रही है। कभी 370 की बात, कभी जिम कॉर्बेट में फिल्म की शूटिंग और चांद की बात दिखाई जा रही है। लेकिन अर्थव्यवस्था का नष्ट होना और बेरोजगारी के बारे में मीडिया में कुछ नहीं दिखाया जा रहा है।’’ उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘नरेंद्र मोदी का एक काम देश का ध्यान भटकाना है ताकि असली मुद्दों पर देश का ध्यान कभी नहीं जाए। मोदी देश के अरबपतियों के लिए ध्यान भटकाते हैं और फिर लाखों करोड़ रुपये हिंदुस्तान के आम लोगों से लेकर इन उद्योगपतियों को दे देते हैं।’’राहुल गांधी ने कहा, ‘‘भाजपा ने हरियाणा में कहा था कि किसानों का कर्ज माफ कर देंगे लेकिन क्या हुआ? माफ नहीं हुआ। मोदी जी ने देश के कुछ उद्योगपतियों के साढ़े पांच लाख करोड़ रुपये माफ कर दिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘किसानों का कर्ज माफ होने पर कहा जाएगा कि किसान आलसी हो जाएंगे, लेकिन उद्योगपतियों के कर्जमाफी पर कुछ नहीं जाएगा। सवा लाख करोड़ रुपये कारपोरेट कर माफ कर दिए गए और सबने ताली बजाई। बाद में कुछ नहीं निकला।’’राहुल गांधी ने दावा किया, ‘‘2004 से 2014 के दौरान यूपीए की सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था को पहले स्थान पर पहुंचा दिया था। ओबामा कहते थे कि अमेरिका का भारत से मुकाबला है। लेकिन आज दुनिया में भारत का मजाक बनाया जा रहा है। आज एक जाति दूसरी जाति से लड़ रही है, एक धर्म के लोग दूसरे धर्म के लोगों से लड़ रहे हैं। यही नहीं, भारत की शान अर्थव्यवस्था की धज्जियां उड़ा दी गईं।’’ उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए गरीबों के जेब में पैसा डालना होगा।कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, ‘‘ मोदी जी ने संसद में कहा कि मनरेगा से खराब कोई योजना नहीं है। नरेंद्र मोदी को अर्थव्यवस्था की कोई समझ नहीं है। 2014 के बाद कुछ उद्योगपतियों ने मुझसे कहा कि इसके पहले के 10 वर्षों में देश की अर्थव्यवस्था मनरेगा और किसान कर्जमाफी के कारण तेजी से बढ़ी।’’ गांधी ने कहा कि अभी तो शुरुआत हुई है, आप देखना कि अर्थव्यवस्था और रोजगार का क्या होता है। माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी को मोदी पैसे दे रहे हैं और वे देश छोड़कर भाग गए।उन्होंने कहा कि हरियाणा में कांग्रेस की सरकार बनने पर महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण सरकारी नौकरियों में मिलेगा। राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी बीएसएनएल, एमटीएनएल जैसे पीएसयू का निजीकरण कर रहे हैं। इनमें नौकरियां खत्म कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ अगर न्याय योजना लागू होती तो देश में बेरोजगारी खत्म हो जाती। खैर, मोदी जी कैसे चुनाव जीते, सबको पता है। अब हरियाणा में ये गलती मत करिए। ’’विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिएकोलकाता की कंपनी पर आयकर का छापा, 365 करोड़ रुपये के कालेधन का पता लगा******IT Raid In Kolkataनयी दिल्ली।आयकर विभाग को कोलकाता स्थित रियल एस्टेट और स्टॉक ब्रोकिंग समूह पर छापे के दौरान 365 करोड़ रुपये की अघोषित आय का पता चला है। केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। आयकर विभाग की यह कार्रवाई विभाग के डेटाबेस, इन कंपनियों की वित्तीय लेखों के विश्लेषण और बाजार की खुफिया जानकारी पर आधारित थी।कंपनियों पर छापों की यह कार्रवाई पांच जनवरी को की गई। सीबीडीटी की यहां जारी विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘अब तक कुल 365 करोड़ रुपये की आय को छुपाये जाने के बारे में पता चला है। कंपनियों ने अब तक 111 करोड़ रुपये की अघोषित आय को स्वीकार किया है। आयकर विभाग अधिकारियों के छापा मारने वाले दल को इस दौरान 3.02 करोड़ रुपये की बिना हिसाब किताब वाली नकदी और 72 लाख रुपये के आभूषण भी बरामद हुये हैं।विज्ञप्ति में कहा गया है कि मकानों की बिक्री का बिना बुकिंग वाले राजस्व का भी पता चला है। जांच-पड़ताल के दौरान यह भी पता चला है कि कंपनी समूह के लोग अपनी खुद की बिना हिसाब-किताब वाली राशि को इधर उधर करने के लिये मुखौटा कंपनियों का भी इस्तेमाल भी करते रहे हैं।

Birthday Special: विनोद खन्ना की ये 5 फिल्में आपको जरूर देखनी चाहिए

विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिए25 करोड़ जनधन एकाउंट में जमा हुए 64,250 करोड़ रुपए, उत्‍तर प्रदेश रहा सबसे आगे******केंद्र सरकार ने आज बताया कि नोटबंदी के बाद से जनधन एकाउंट में कुल जमा राशि बढ़कर 64,252.15 करोड़ रुपए हो गई है। इन एकाउंट्स में पैसा जमा कराने के मामले में उत्‍तर प्रदेश सबसे आगे है। यहां जनधन एकाउंट्स में कुल 10,670.62 करोड़ रुपए जमा किए गए हैं। इसके बाद पश्चिम बंगाल और राजस्‍थान का नंबर आता है।केंद्र सरकार ने यह भी स्‍पष्‍ट किया कि किसी भी सार्वजनिक बैंक को यह नहीं कहा गया है कि वे अपने अधिकारियों से जनधन एकाउंट्स में जीरो बैलेंस को खत्‍म करने के लिए उनमें एक या दो रुपए जमा कराएं।प्रधानमंत्री जनधन योजना (पीएमजेडीवाय) के तहत खोले गए 25.58 करोड़ जनधन एकाउंट्स में 16 नवंबर तक पूरे देश में कुल 64,252.15 करोड़ रुपए जमा हुए हैं।Paytm11 नवंबर 2016 तक देशभर में 17.87 लाख करोड़ रुपए की करेंसी सर्कुलेशन में थी। आरबीआई ने वित्‍त वर्ष 2015-16 में 2,119.5 करोड़ बैंक नोट छापे हैं, जबकि 2014-15 में 2,365.2 करोड़ नोट छापे गए थे।विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिएUmesh Kolhe Murder Case: पहले गला काटकर उमेश कोल्हे को उतारा मौत के घाट, फिर मौलवी और अरबाज ने की डिनर पार्टी******Highlights उमेश कोल्हे हत्याकांड में NIA ने कोर्ट में बड़ा खुलासा किया है। जांच एजेंसी ने कोर्ट में बताया कि गिरफ्तार मौलवी और अरबाज ने उमेश कोल्हे को मौत के घाट उतारने के के बाद जश्न मनाया और डिनर पार्टी का आयोजन किया था। महाराष्ट्र के अमरावती में हुए उमेश कोल्हे हत्याकांड मामले में NIA ने दो और आरोपियों को गिरफ़्तार किया है जिनके नाम मुश्फ़िक अहमद और अब्दुल अरबाज़ है। मुश्फ़िक अहमद मौलवी है और अब्दुल अरबाज़ रहबर NGO में एम्बुलेंस का ड्राइवर है।NIA ने आज जब दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया तो कोर्ट को बताया कि इन आरोपियों ने इस हत्याकांड के मास्टर माइंड इरफान खान और दूसरे आरोपियों को हत्या के बाद छुपने में मदद की थी। इसके अलावा NIA ने बताया कि इन आरोपियों ने उमेश कोल्हे की हत्या के बाद डिनर पार्टी ऑर्गनाइज की थी। इस पार्टी में और लोगों को भी बुलाया गया था। अब उन्हें यह पता लगाना है कि आख़िर इस डिनर पार्टी में और कौन कौन शामिल था। दोनों आरोपियों को 12 अगस्त तक NIA रिमांड मे भेज दिया गया है।राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने बुधवार को अमरावती के फार्मासिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या के सिलसिले में दो और लोगों को गिरफ्तार किया था। पुलिस के सूत्रों ने यह जानकारी दी। बुधवार को गिरफ्तार किए गए दो और लोगों के बाद मामले के संबंध में अब तक नौ को गिरफ्तार किया जा चुका है। सूत्रों के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए मौलवी मुशफीक अहमद (41) और अब्दुल अरबाज (23) पर संदेह था कि दोनों ने हत्या के लिए पैसे जुटाए और अन्य आरोपियों को पनाह दी।गौरतलब है कि भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नुपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर कथित तौर पर पोस्ट डालने को लेकर उमेश कोल्हे की 21 जून को हत्या कर दी गई थी। 54 साल के कोल्हे पर 21 जून की रात तीन लोगों ने चाकू से कथित तौर पर हमला किया था। उनकी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक, दवा दुकानदार (केमिस्ट) उमेश कोल्हे ने नूपूर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर एक पोस्ट डाली थी। नूपुर शर्मा ने मई में एक टीवी डिबेट में पैगंबर मोहम्मद के बारे में विवादास्पद टिप्पणी की थी। इस मामले की जांच राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) कर रहा है।विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिएYeh Rishta Kya Kehlata Hai Spoiler: अक्षरा को मेहमानों के सामने बेइज्जत करेगी महिमा!******Highlightsसीरियल '' में इन दिनों बेहद दिलचस्प ट्रैक चल रहा है। अक्षरा और अभिमन्यु की शादी हो गई है और अक्षू विदा होकर ससुराल आ गई है। मगर यहां अक्षरा की जिंदगी अभिमन्यु के साथ जितनी अच्छी होने वाली है उतनी ही कठिन बाकी घरवालों के साथ होने वाली है, खासकर महिमा के साथ। शो में जबरदस्त ड्रामा और ट्विस्ट देखने को मिलने वाला है।अक्षरा और अभिमन्यु चीजों को ठीक करने और इसे करने की कोशिश कर रहे हैं, अक्षरा सुनती है कि हर्ष मेहमानों से बोल रहे हैं कि उनकी नई बहू डॉक्टर नहीं है। महिमा इस मौके का फायदा उठाती हैं और मेहमानों से उनका परिचय कराती हैं और उसका अपमान करने की कोशिश करती है। लेकिन मंजरी समय पर आ जाती है और अक्षरा की तारीफ करती है। मंजरी आती है और बताती है कि अक्षरा का गोयनका अस्पताल में संगीत चिकित्सा विभाग में है और वह काफी अच्छा कर रही है।मंजरी अक्षरा का हर कीमत पर बचाव कर रही हैं। लेकिन वो अक्षरा को खुद भी ऐसे हालात का डटकर सामना करने को कहती है। ये रिश्ता क्या कहलाता है स्टार प्लस पर हर रात साढ़े 9 बजे प्रसारित होता है।

Birthday Special: विनोद खन्ना की ये 5 फिल्में आपको जरूर देखनी चाहिए

विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिएआयुष्मान खुराना-स्टारर फिल्म 'चंडीगढ़ करे आशिकी' की रिलीज डेट का ऐलान******आयुष्मान खुराना-स्टारर फिल्म 'चंडीगढ़ करे आशिकी' 9 जुलाई को थियेटर रिलीज के लिए तैयार है। इस रोमांटिक ड्रामा को अभिषेक कपूर ने डायरेक्ट किया है। वहीं इसमें आयुष्मान खुराना के साथ वाणी कपूर भी दिखाई देंगी। फिल्म में आयुष्मान एक क्रॉसफिट एथलीट के रूप में नजर आएंगे।फिल्म की शूटिंग का शेड्यूल 48 दिनों के भीतर लपेट लिया गया था, जिसके बाद यूनिट ने केक काटने के साथ शूटिंग को पूरा होने का जश्न मनाया था। फिल्म का निर्माण प्रज्ञा कपूर और भूषण कुमार ने किया है।(इनपुट-आईएएनएस)विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिएइन 8 कंपनियों की झोली में आए 7 दिन में 86,000 करोड़ रुपए, बाजार पूंजीकरण में हुई वृद्धि******mcap देश की शीर्ष दस कंपनियों में से आठ के (मार्केट कैप) में पिछले सप्ताह करीब 86,000 करोड़ रुपए का इजाफा हुआ है। सबसे ज्यादा फायदा दिग्गज सूचना प्रौद्योगिकी कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस (टीसीएस) के बाजार पूंजीकरण में हुआ। ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉर्पोरेशन और इंफोसिस को छोड़कर बाकी बची आठ बड़ी कंपनियों के बाजार पूंजीकण में 85,998.28 करोड़ रुपए की वृद्धि हुई है।टीसीएस का बाजार पूंजीकरण 19,219.45 करोड़ रुपए बढ़कर 5,64,657.41 करोड़ रुपए, जबकि रिलायंस इंडस्ट्रीज का पूंजीकरण 17,071.89 करोड़ रुपए बढ़कर 5,76,294.88 करोड़ रुपए पर पहुंच गया।भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) की बाजार हैसियत 15,973.11 करोड़ रुपए बढ़कर 2,31,860.78 करोड़ रुपए और मारुति सुजुकी की हैसियत 10,412.70 करोड़ रुपए बढ़कर 2,78,150.79 करोड़ रुपए हो गई।हिंदुस्तान यूनिलीवर और एचडीएफसी का पूंजीकरण 8,604 करोड़ और 8,109.66 करोड़ रुपए बढ़कर क्रमश: 2,97,763.40 करोड़ और 4,98,958.01 करोड़ रुपए हो गया। वहीं, आईटीसी के बाजार पूंजीकरण में 5,736.02 करोड़ रुपए का इजाफा हुआ और यह 3,18,043.93 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है। एचडीएफसी का पूंजीकरण 871.45 करोड़ बढ़कर 3,06,618.03 करोड़ रुपए हो गया।दूसरी ओर समीक्षाधीन अवधि के दौरान ओएनजीसी का पूंजीकरण 1,154.99 करोड़ रुपए घटकर 2,27,019.93 करोड़ रुपए, जबकि इंफोसिस का मार्केट कैप 1,113.90 करोड़ रुपए कम होकर 2,46,652.02 करोड़ रुपए रह गया। देश की शीर्ष 10 कंपनियों में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर रही। इसके बाद टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, आईटीसी, एचडीएफसी, एचयूएल, मारुति, इंफोसिस, एसबीआई और ओएनजीसी का स्थान रहा।बीते सप्ताह सेंसेक्स 658.29 अंक यानी 1.99 प्रतिशत और निफ्टी 217.90 अंक यानी 2.15 प्रतिशत की बढ़त के साथ बंद हुआ।

Birthday Special: विनोद खन्ना की ये 5 फिल्में आपको जरूर देखनी चाहिए

विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिएमध्य प्रदेश में Coronavirus के मरीजों की संख्या बढ़कर 1,360 हुई, अबतक 69 मरीजों की मौत****** मध्य प्रदेश में लगातार का कहर बढ़ता जा रहा है और संक्रमितों की संख्या में इजाफा हो रहा है। इन्दौर में शुक्रवार रात को कोविड-19 संक्रमण के 50 नए मामले सामने आने के बाद प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की तादाद बढ़कर 1,360 पर पहुंच गई है। प्रदेश के एक स्वास्थ्य अधिकारी ने शनिवार को बताया कि प्रदेश में कोरोना वायरस के 1,360 मरीजों में से अब तक 69 लोगों की मौत हो चुकी है। उन्होंने बताया कि इंदौर में कोरोना वायरस से 892 लोग संक्रमित हैं। में इस घातक महामारी से अब तक 47 लोगों की मौत हो चुकी है। अधिकारी ने बताया कि इसके अलावा भोपाल और उज्जैन में छह-छह, देवास में पांच, खरगोन में चार और छिंदवाड़ा में एक व्यक्ति की कोरोना वायरस से मौत हुई है।पूरे प्रदेश में 1360 कोरोना पॉजिटिव केस, 69 मरीजों की मौतइंदौर में 892 कोरोना पॉजिटिव केस, 47 मरीजों की मौतभोपाल में 197 कोरोना पॉजिटिव केस, 6 मरीजों की मौतकोरोना वायरस का घातक संक्रमण मध्यप्रदेश के 25 जिलों में फैल चुका है। प्रदेश में कुल 52 जिले हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित 99 लोग शनिवार तक स्वस्थ होकर अस्पताल से घर जा चुके हैं।

विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिएMundka Fire Case: दूसरी मंजिल पर चल रहा था कार्यक्रम, तभी लगी आग, मुंडका अग्निकांड मामले में सामने आई जानकारी****** दिल्ली के मुंडका में हुए ​भीषण अग्निकांड में एक और जानकारी सामने आई है। यहां अग्निकांड से पहले इमारत की दूसरी मंजिल पर एक कार्यक्रम चल रहा था, जिसमें बड़ी संख्या में लोग शिरकत ​कर रहे थे। तभी भीषण आग लग गई और लोग इसमें फंस गए। दिल्ली में हुए अग्निकांड के संबंध में दर्ज प्राथमिकी में यह बात कही गई है। वहीं दमकल अधिकारियों ने बताया कि इमारत की दूसरी मंजिल से सबसे ज्यादा शव बरामद किए गए। मामले के संबंध में दर्ज प्राथमिकी के अनुसार, शुक्रवार को शाम करीब चार बजे सभी कर्मचारियों के लिए एक प्रेरक कार्यक्रम आयोजित किया गया था और उन्हें इमारत की दूसरी मंजिल पर इकट्ठा किया गया था।' प्राथमिकी में कहा गया है कि पुलिस को शाम 4.45 बजे आग लगने और 100 से 150 लोगों के अंदर फंसे होने की सूचना मिली।प्राथमिकी के मुताबिक, पुलिस मौके पर पहुंची तो पता चला कि मुंडका गांव में मुख्य रोहतक मार्ग पर स्तंभ संख्या 544 के सामने परिसर संख्या 193 में आग लगी है और कुछ लोग दूसरी मंजिल की खिलड़ियों के शीशे तोड़कर इमारत से कूदे। इसमें कहा गया है कि इमारत में एक तहखाना और चार मंजिलें हैं।चौथी मंजिल रिहायशी है। दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंचीं और आग पर काबू पाना शुरू किया। पूछताछ के दौरान पता चला कि इमारत का मालिक मनीष लाकड़ा है, जो इमारत की चौथी मंजिल पर रहता है। पुलिस उपायुक्त समीर शर्मा ने बताया कि प्राथमिकी भारतीय दंड संहिता की धारा 304,308, 120 और 34 के तहत दर्ज की गई है, जिसमें सीसीटीवी कैमरों से जुड़ा काम करने वाली कंपनी के मालिकों को नामज़द किया गया है, जिन्होंने इमारत की तीन मंजिलों को किराए पर लिया हुआ था।गौरतलब है कि राजधानी दिल्ली के मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास शुक्रवार को एक चार मंजिला व्यावसायिक इमारत में भीषण आग लग गई थी। आग की चपेट में आकर 27 लोगों की मौत गई आर कई लोग घायल हो गए थे।बता दें कि मुंडका अग्निकांड को लेकर दिल्ली सरकार के सूत्रों से मिली जानकारी में बेहद चौंकाने वाले खुलासे सामने आ चुके हैं। जिस इमारत में भीषण आग लगी वहां किसी भी तरह की कमर्शियल गतिविधि की इजाजत नहीं थी फिर भी MCD ने ही इसे लाइसेन्स दिया था। हैरान की बात ये है कि अभी तक ये बिल्डिंग कागजों में सील है।दिल्ली सरकार के सूत्रों ने बताया कि 2019 में सुप्रीम कोर्ट द्वारा बनाई गई मोनिटरिंग कमिटी ने इस बिल्डिंग को सील करने का आदेश दिया और पेनेल्टी लगाई थी। फिर MCD ने पेनेल्टी लेकर मोनिटरिंग कमिटी को जमा कराई लेकिन मोनिटरिंग कमिटी ने इमारत को डीसील करने का कोई आदेश नहीं दिया। लेकिन यहां व्यापारिक गतिविधि चलती रही। इमारत के लिए अग्निशमन विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) भी नहीं था।विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिए#AapKiAdalat: BJP अध्यक्ष अमित शाह, 'आतंकियों के शव देखने कपिल सिब्बल को बालाकोट जाना चाहिए'******बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने आप की अदालत में कपिल सिब्बल के आतंकियों के शव दिखाने वाले बयान पर कहा कि उन्हेंआतंकियों के शव देखनेबालाकोट जाना चाहिए। दरअसल,अमित शाह से पूछा गया था किकपिल सिब्बल ने कहा था कि जनता बालाकोट में मारे गए आतंकियों के शव देखना चाहती है। इसके जवाब में उन्होंने कहा कि उन्हें (कपिल सिब्बल) को वहां जाकर आतंकियों के शव देखने चाहिए।इसके अलावा अमित शाह ने कहा किकहा कि देश की सुरक्षा चुनाव का प्रमुख मुद्दा होना चाहिए क्योंकि लोग जानना चाहते हैं कि कौन देश को सुरक्षित रख सकता है। अमित शाह ने आज दिनभर चले इंडिया टीवी कॉन्क्लेव चुनाव मंच में कहा कि 'मोदी सरकार आतंकवाद के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति है, जो जैसा करेगा उसे वैसा जवाब दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि 26/11 का हमला हुआ और आप कुछ नहीं कर सके, इसलिए देश की सुरक्षा चुनाव का प्रमुख मुद्दा होना चाहिए।समाजवादी पार्टी नेता रामगोपाल यादव के बयान से जुड़े सवाल पर अमित शाह ने कहा, 'चाहे रामगोपाल हो चाहे राहुल गांधी हो या अन्य नेता ये सभीअपने वोट बैंक को मजबूत करने के लिए इस तरह के बयान दे रहे हैं। उनके बयान और पाकिस्तान के नेताओं के बयान एक हैं, आप मिला लीजिए। अजीब बात है कि एयर स्ट्राइक से शहीदों के परिवारों को सुकून मिला और इन लोगों को दुख हो रहा है।'जब अमित शाह से यह सवाल किया गया कि एयरस्ट्राइक के मुद्दे से राजनीतिक लाभ उठाना चाहते हैं, शाह ने कहा कि एयर स्ट्राइक या सर्जिकल स्ट्राइक हमारे लिए मतों का मुद्दा नहीं है, बीजेपी देश की सुरक्षा के लिए सजग है, उसका आउटकम क्या होगा यह जनता को तय करना है। अमित शाह ने कहा कि मोदी जी की नीति आतंकवाद को लेकर बेहद सख्त है.. आतंकवादी जब हमला करते हैं तो हमें जवाब देना होगा यह नहीं देखना होगा कि चुनाव है या नहीं। उरी की घटना के बाद हमने सर्जिकल स्ट्राइक की थी उस समय तो कहीं चुनाव नहीं था।'ये मोदी जी की कूटनीतिक सफलता है कि पूरी दुनिया में पाकिस्तान अलग-थलग पड़ा हुआ है। मोदी सरकार ने अपनी कूटनीतिक सफलता के चलते यह साबित किया है कि पाकिस्तान भारत में आतंकवाद फैला रहा है और पूरी दुनिया ने भारत का समर्थन किया है। हमने पाकिस्तान में घुसकर एयर स्ट्राइक की और दुनिया ने हमारा समर्थन किया। यह हमारी आत्मरक्षा का अधिकार था जिसे पूरी दुनिया का समर्थन मिला।भारत द्वारा अंतरिक्ष में एंटी सैटेलाइट मिसाइल परीक्षण की सफलता के बाद राजनीतिक गलियारों में उठ रहे सवालों पर अमित शाह ने कहा, 'अंतरिक्ष कीदुनिया में महाशक्ति बनने पर पूरा देश गर्व कर रहा है। इतने लंबे करियर में आपने विपक्ष के नेता को घोषणा करते देखा है क्या ये तो प्रधानमंत्री हीकरते हैं। उनके राजनीतिक इच्छाशक्ति के आधार पर ही योजनाएं बनती हैं और फैसले लिये जाते हैं। काम को अंतिम रूप दिया जाता है।राजनीतिक नेतृत्व में दृढ़इच्छाशक्ति और फैसले लेने का सामर्थ्य था इसलिए यह सफलता मिली। आगे उन्होंने कहा, 'मेरी पार्टी के पास ऐसा नेतृत्व है जिसके पास हर सवाल का जवाब है।'अमित शाह ने कहा कि एयरस्ट्राइक के बाद विपक्ष के चेहरे का नूर खत्म हो गया है। देश के पीएम ने दुनिया को यह दिखाया कि हमारी सुरक्षा औरहमारी सीमाओं के साथ कोई खिलवाड़ नहीं कर सकता। अमेरिका और इजरायल के बाद भारत तीसरा देश है जिसने यह दिखाया कि कोई अगरहमारीसीमाओं का सम्मान नहीं करता है, हमारे साथ छेड़छाड़ करता है तो हम घर में घुसकर सबक सिखा सकते हैं।शाह ने कहा, 'मोदी जी विश्वास से लबालब हैं और देश को अपने काम का पूरा हिसाब दे रहे हैं। हमारा बूथ लेवल का कार्यकर्ता सीन तानकर लोगों के पास जा रहा है। हमने कोई ऐसा काम नहीं किया है कि हमारे कार्यकर्ताओं को सिर झुकाकर जनता के सामने जाना पड़े।'अमित शाह ने कहा, 'देश की जनता किसी परिवार की पूंजी नहीं है। आप देख लीजिएगा कि लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश के अंदर 73 से 74 सीटें होगीं 72 नहीं होगी। विपक्ष के नेता अपना कलेजा मजबूत कर लें। इस बार जो रिजल्ट आएगा तो विपक्ष के अच्छे-अच्छे नेताओं के दिल दहल जाएंगे।'

विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिएZomato को चीन के निवेशकों से $10 करोड़ की फंडिंग रुकी, भारत-चीन तनाव का असर******Zomatoनई दिल्ली। फूड डिलिवरी स्टार्टअप Zomato को चीन के निवेशकों के द्वारा जारी फंडिंग रुक गई है। सूत्रों के हवाले से ये खबर सामने आई है। मीडिया में छपी एक खबर के अनुसार स्टार्टअप के सबसे बड़े चीनी निवेशक Ant Financial से मिलने वाली करीब 10 करोड़ डॉलर की फंडिंग फिलहाल Zomato को नहीं मिली है। रिपोर्ट के मुताबिक पड़ोसी मुल्कों से निवेश को लेकर भारत सरकार की सख्ती का असर फंडिंग पर पड़ा है।जनवरी में ही Zomato ने जानकारी दी थी कि उसने अलीबाबा ग्रुप की कंपनी Ant Financial से 15 करोड़ डॉलर जुटाए हैं। जो कि उसके बड़ी निवेश योजना का एक हिस्सा है। चीनी निवेशक ने Zomato में अब तक 56 करोड़ डॉलर का निवेश किया है वहीं स्टार्टअप में उसकी 25 फीसदी है।इस साल अप्रैल में भारत सरकार ने ऐसे देशों से जिनकी सीमा भारत के साथ मिलती हो, आने वाले सभी निवेश के लिए सरकारी मंजूरी आवश्यक कर दी है। सरकार के मुताबिक ये सख्ती इसलिए की गई है जिससे देश की कंपनियों पर पड़ोसी देशों द्वारा जानबूझकर गलत मकसद के साथ कब्जा न किया जाए। खास तौर पर कोरोना संकट की वजह से कंपनियों की आर्थिक स्थिति कमजोर होने से ऐसे टेकओवर की संभावनाएं बढ़ गई हैं। इन देशों में चीन, बांग्लादेश, पाकिस्तान, भूटान, नेपाल, म्यांमार और अफगानिस्तान शामिल है।रिपोर्ट के मुताबिक नए नियम की वजह से चीनी निवेशक के द्वारा Zomato में की जाने वाली नई फंडिंग को पहले सरकार से अनुमति लेनी होगी, हालांकि रिपोर्ट में कहा गया है कि Zomato फंडिंग को लेकर आशावान बना हुआ है।विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिएCBSE 12th Economics Paper 2020: जानिए कैसा था 12वीं का इकोनॉमिक्‍स का पेपर, क्‍वेश्‍चन पेपर में आए सभी सवाल पढ़ें यहां******सीबीएसई कक्षा 12वीं का इकनॉमिक्सपेपर आज आयोज‍ित क‍िया गया। परीक्षा का आयोजन सुबह 10.30 बजे से दोपहर 1.30 बजे तक किया गया था। छात्रों के मुताबिक 12वीं इकनॉमिक्स का पेपर काफी आसान था और अधिकतर छात्रों को परीक्षा में अच्छे अंक आने की उम्मीद है यहां हम आपके सामने भी इकनॉमिक्स का क्वेश्चन पेपर दे रहे हैं ताकि आप भी पेपर की कठिनाई के स्तर का अंदाजा लगा सकें।सीबीएसई क्लास 12वीं इकनॉमिक्स पेपर कुल 80 नंबर का था। एग्जाम कुल 3 घंटे का था यानी सुबह के 10.30 बजे शुरू हुआ था और दोपहर बाद 1.30 बजे समाप्त हुआ।12वीं इकनॉमिक्स के पेपर में तीन पार्ट्स में बांटा गया था। पहले पार्ट में इंट्रोडक्टरी मैक्रोइकनॉमिक्स, दूसरे में इंडियन इकनॉमिक डिवेलपमेंट और तीसरे में प्रॉजेक्ट इन इकनॉमिक्स था।के 'महर्षि विद्या मंदिर सीनियर सेकेंडरी स्कूल'के छात्रने बताया कि पेपर ज्यादा लंबा नही था। हालांकि सेक्शन बी मुश्किल था। लेकिन ओवर ऑल पेपर की बात करें तो अच्छा था। मैं इसे समय पर पूरा करने में सक्षम था। मुझे हाईस्कोर की उम्मीद है।

विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिए14 अगस्त राशिफल: सिंह राशि वाले क्रोध पर रखें नियंत्रण रखें, बिगड़ सकते हैं काम****** - आज आपको अपनी प्रतिष्ठा में वृद्धि लाने के लिए कई अवसर प्राप्त हो सकते हैं | आप अपने जीवन को और बेहतर बनाने के लिए अग्रसर रहेंगे | ऑफिस में आप किसी तरह की राजनीति में उलझ सकते हैं | इससे आपका कुछ समय खराब हो सकता है | घर में नए मेहमान के आने की संभावना है, जिससे आपका मन खुश रहेगा | ऑफिस में काम की अधिकता थोड़ी ज्यादा हो सकती है | आप दोस्तों के साथ समय बितायेंगे | उनके साथ किसी नए विषय पर बातचीत कर सकते हैं | गणेश जी की आरती करें, आपका दिन बेहतर गुजरेगा | - आज तरक्की के नये रास्ते खुले नजर आयेंगे | शाम तक आपको कोई अच्छी खबर मिल सकती है | पारिवारिक जीवन खुशहाल बना रहेगा | आप माता-पिता के साथ धार्मिक स्थल पर दर्शन के लिए जा सकते हैं | आपका स्वास्थ्य पहले से बेहतर बना रहेगा | आप आसपास के लोगों से सहानुभूति बनाये रखेंगे | इस राशि के छात्रों को पढ़ाई में अच्छेपरिणाम हासिल होंगे | आज आप कई तरह के नये काम करना चाहेंगे | आपकी कोशिशें सफल रहेगी | सूर्यदेव को जल अर्पित करें, जीवन में दूसरों का सहयोग मिलता रहेगा |विनोदखन्नाकीये5फिल्मेंआपकोजरूरदेखनीचाहिएUttarakhand Election 2022: BJP ने 9 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की, देखें पूरी लिस्ट******Highlightsभारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए बुधवार को नौ उम्मीदवारों की अपनी दूसरी सूची जारी कर दी। पार्टी ने पूर्व मुख्यमंत्री भुवनचंद्र खंडूरी की बेटी ऋतु को कोटद्वार से उम्मीदवार बनाया है। भाजपा ने 2017 के चुनाव में कोटद्वार से जीत दर्ज की थी। हरक सिंह रावत ने यहां से चुनाव जीता था। रावत ने अब कांग्रेस का दामन थाम लिया है।ऋतु खंडूरी ने पिछले चुनाव में यमकेश्वर से जीत दर्ज की थी। पार्टी इससे पहले 59 सीटों पर अपने उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर चुकी है। इस सूची में खंडूरी का नाम नहीं था। भाजपा अब तक 68 सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर चुकी है। उत्तराखंड की 70 सदस्यीय विधानसभा के लिए एक ही चरण में 14 फरवरी को मतदान होना है। पार्टी ने केदारनाथ से शैलारानी रावत, हल्द्वानी से जोगेंद्र पाल सिंह रौतेला, झबरेड़ा से राजपाल सिंह, पिरंकलियार से मुनीश सैनी, रानीखेत से प्रमोद नैनवाल, जागेश्वर से मोहन सिंह मेहरा, लालकुंआ से मोहन सिंह बिष्ट और रुद्रपुर से शिव अरोड़ा को अपना उम्मीदवार बनाया है।जिन दो सीटों पर ने अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा नहीं की है, उनमें डोइवाला और टिहरी सीट भी शामिल हैं। पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत वर्तमान विधानसभा में डोइवाला सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं। त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा को पत्र लिखकर विधानसभा चुनाव ना लड़ने की इच्छा जताई थी। चुनाव में राज्य की सत्तारूढ भाजपा और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के बीच एक बार फिर कड़ी टक्कर होने की संभावना है। हालांकि, जानकारों का मानना है कि पहली बार राज्य में चुनाव लड़ रही आम आदमी पार्टी (आप) भी कुछ सीटों पर दोनों दलों के समीकरणों को प्रभावित कर सकती है।बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और पृथक राज्य आंदोलन का अगुआ रहा उत्तराखंड क्रांति दल (उक्रांद) भी अपना खोया प्रभाव दोबारा पाने के लिए प्रयासरत हैं। वर्ष 2000 में अस्तित्व में आए उत्तराखंड राज्य की जनता ने कभी भी किसी राजनीतिक दल को दोबारा सत्ता नहीं सौंपी है। भाजपा इस बार के चुनाव में इस मिथक को तोड़ने का दावा कर रही है। पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 57 सीटों पर जीत दर्ज कर सरकार बनाई थी जबकि कांग्रेस को 11 सीटों पर जीत मिली थी। दो सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत हासिल की थी।इनपुट- भाषा

नवीनतम उत्तर (2)
2022-10-07 14:40
उद्धरण 1 इमारत
कोलकाता की कंपनी पर आयकर का छापा, 365 करोड़ रुपये के कालेधन का पता लगा******IT Raid In Kolkataनयी दिल्ली।आयकर विभाग को कोलकाता स्थित रियल एस्टेट और स्टॉक ब्रोकिंग समूह पर छापे के दौरान 365 करोड़ रुपये की अघोषित आय का पता चला है। केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। आयकर विभाग की यह कार्रवाई विभाग के डेटाबेस, इन कंपनियों की वित्तीय लेखों के विश्लेषण और बाजार की खुफिया जानकारी पर आधारित थी।कंपनियों पर छापों की यह कार्रवाई पांच जनवरी को की गई। सीबीडीटी की यहां जारी विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘अब तक कुल 365 करोड़ रुपये की आय को छुपाये जाने के बारे में पता चला है। कंपनियों ने अब तक 111 करोड़ रुपये की अघोषित आय को स्वीकार किया है। आयकर विभाग अधिकारियों के छापा मारने वाले दल को इस दौरान 3.02 करोड़ रुपये की बिना हिसाब किताब वाली नकदी और 72 लाख रुपये के आभूषण भी बरामद हुये हैं।विज्ञप्ति में कहा गया है कि मकानों की बिक्री का बिना बुकिंग वाले राजस्व का भी पता चला है। जांच-पड़ताल के दौरान यह भी पता चला है कि कंपनी समूह के लोग अपनी खुद की बिना हिसाब-किताब वाली राशि को इधर उधर करने के लिये मुखौटा कंपनियों का भी इस्तेमाल भी करते रहे हैं।
2022-10-07 14:25
उद्धरण 2 इमारत
Asaduddin Owaisi on Raja Singh: 'एक बार फिर जेल भेजा जाना चाहिए', राजा सिंह की जमानत पर भड़के ओवैसी, कहा- गंभीर आरोप है******Highlights भारतीय मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी करने वाले और बीजेपी से अब निलंबित विधायक टी. राजा सिंह को लेकर कहा कि उनकी रिहाई का आदेश कल जारी किया गया। ओवैसी ने कहा, "हम उम्मीद करते हैं कि राज्य सरकार और पुलिस प्रशासन इसे सुधारेंगे। उन पर गंभीर आरोप हैं और उन्होंने एक वीडियो जारी किया था। उन्हें एक बार फिर जेल भेजा जाना चाहिए। यही हमारी मुख्य मांग है।"ओवैसी ने कहा, "पार्टी की ओर से हमारे विधायक और महासचिव अहमद पाशा कादरी ने तेलंगाना विधानसभा अध्यक्ष पोचाराम श्रीनिवास रेड्डी को लिखा कि बीजेपी से निलंबित विधायक राजा सिंह के खिलाफ निष्कासन की कार्यवाही शुरू की जाए। उनका रवैया एक विधायक के रूप में अशोभनीय है।"उन्होंने कहा, "राजा सिंह को पुलिस हिरासत में भेजा जाना चाहिए। उनकी आवाज का सैंपल लिया जाना चाहिए और एफएसएल को भेजा जाना चाहिए, ताकि उनके खिलाफ कानूनी रूप से मजबूत मामला बनाया जा सके। यह आखिरी बार होना चाहिए कि वह इस तरह का विवादित बयान दें।"इससे पहले असददुद्दीन ओवैसी ने पैगंबर मोहम्मद पर विवादित मामले में कल राजा सिंह की आलोचना की थी और कहा कि बीजेपी ने नूपुर शर्मा प्रकरण से कोई सबक नहीं सीखा है। बता दें कि नूपुर शर्मा की टिप्पणी के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तीखी प्रतिक्रिया हुई थी। शर्मा को बाद में पार्टी से निलंबित कर दिया गया था और बीजेपी ने राजा सिंह के खिलाफ भी यही कार्रवाई की है।गौरतलब है कि पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणी करने के मामले में कोर्ट ने मंगलवार को विधायक टी. राजा सिंह को चेतावनी देते हुए जमानत दे दी। कोर्ट ने पहले राजा सिंह को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया था, लेकिन बाद अदालत ने रिमांड ऑर्डर वापस लेते हुए जमानत दे दी। पुलिस ने राजा सिंह को हैदराबाद के नामपल्ली कोर्ट में पेश किया था। राजा सिंह को जमानत मिलने के विरोध में हैदराबाद के चारमीनार के आस-पास प्रदर्शन किए गए।वहीं, राजा सिंह की टिप्पणी को लेकर बढ़े विवाद के बीच बीजेपी ने उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया। साथ ही पार्टी ने उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए 10 दिन में जवाब देने के लिए कहा है। पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी मामले में उन्हें हैदराबाद पुलिस ने मंगलवार सुबह गिरफ्तार किया था। टी. राजा सिंह हैदराबाद की गोशामहल सीट से विधायक हैं।
2022-10-07 12:39
उद्धरण 3 इमारत
32 साल बाद कश्मीर में लौटी नवरेह की रौनक, अपनी मातृभूमि पर धूमधाम से नववर्ष का पर्व मना रहे कश्मीरी पंडित****** के सारिका देवी मंदिर में आज 32 साल पुराना माहौल दिख रहा था और मौका था नए साल के आगाज का। देश के विभिन्न राज्यों से 1990 में कश्मीर से पलायन कर चुके कश्मीरी पंडित इस दिन को सेलिब्रेट करने के लिए कश्मीर पहुंचे। मंदिर में ने विशेष पूजा अर्चना कर खुशगवार माहौल मेंयह उम्मीद जताई कि बहुत जल्द कश्मीरी पंडित कश्मीर लौटेंगे, क्योंकि अब हालात पहले से बेहतर है।इंडिया टीवी से बात करते हुए कश्मीरी पंडितों ने कहा, कश्मीर हमारी धरती है। यह जगह जन्नत से कम नहीं है। इस जन्नत को नजर लग गई थी लेकिन अब पिछले कुछ वर्षों से हालात बदल गए हैं। हिंसा और आतंकवाद में भी कमी आई है। कश्मीर के भाईचारे की मिसाल आज भी जिंदा है, आज का माहौल 1990 से पहले जैसे माहौल को दर्शा रहा है। यहां पहुंचे हर कश्मीरी पंडित के चेहरे पर सुकून था। खुशी थी और एक नई उम्मीद क्या अपने घरों को दोबारा वापस लौटेंगे।नवरेह के इस मौके पर इंडिया टीवी के संवावददाता की मुलाकात एक कश्मीरी पंडित से हुई जो कश्मीर के अब्बा कदल इलाके में रहता था। पेशे से वह एक म्यूजिक टीचर था और कश्मीरी बच्चों को पढ़ाता था, लेकिन 1990 में उसके माता पिता की हत्या कर दी गई थी। वह इन सब यादों को ब्लॉक कर एक नई सुबह की शुरुआत कश्मीर में करना चाहता है। इंडिया टीवी से बात करते हुए भावुक हुए और कहा कि मेरी आत्मा यहां बस्ती है। यह मेरा वतन है। मैं कभी कश्मीर को छोड़कर नहीं चला गया। इस मंदिर में सुबह शाम में पूजा करता था लेकिन 32 साल बाद आज यहां आकर यह महसूस हो रहा है कि कश्मीर बदल रहा है। आज मंदिर की घंटियां बज रही है। काफी तादाद में लोग इस पर्व को मनाने के लिए यहां पर पहुंचे हुए हैं।इतना ही नहीं कि सिर्फ यहां से पलायन कर चुके कश्मीरी पंडित अपने घरों को वापस लौटना चाहते हैं बल्कि उनके बच्चे जिन्होंने यहां जन्म तो नहीं लिया, लेकिन अपने माता-पिता से कश्मीर के बारे में सुनकर वह भी यह महसूस करने लगे है कि जो कुछ 1990 के दशक में कश्मीरी पंडितों के साथ हुआ, उसके बावजूद कश्मीर न सिर्फ धरती पर स्वर्ग का एहसास दिलाता है बल्कि यह तस्वीर भी बयान करती है किकश्मीर में हालात अच्छे हो रहे हैं। यहां के लोग यहां का वातावरण देश के हर राज्य से बिल्कुल अलग है। माही और रक्षिता का कहना है कि हम खुश है पहली बार नए साल का यह पर्व मनाने का मौका कश्मीर में मिला। इन लोगों का यह भी कहना है कि इस ऐतिहासिक मंदिर में आकर बहुत खुश है क्योंकि जो कुछ इस मंदिर के बारे में सुना था वही इस मंदिर में आज देखने को भी मिल रहा है।आपको बता दें कि कश्मीर में 1990 के बाद पहली बार इतनी संख्या में कश्मीरी पंडित नवरेह का पर्व मनाने के लिए कश्मीर पहुंचे हैं। 32 साल बाद आज उस माहौल को देखकर कश्मीरी पंडितों की उम्मीदें जाग उठी है और यह यकीन हुआ है कि वह दिन अब दूर नहीं जब एक बार फिर कश्मीर में हिंदू, मुस्लिम और सिख एक साथ रहकर यहां की परंपरा और भाईचारे को फिर से कायम करने में सफल हो जाएंगे।
वापसी
नई पोस्ट करें
294836
विषयों की संख्या
5947
पदों की संख्या
87317
उपयोगकर्ता संख्या
294836
ऑनलाइन
44